नचारी ! ( २२.०२.२०१७ )

नचारी ! ( २२.०२.२०१७ )
शिव कुमार झा टिल्लू

**************************************
सुरभित केसर कुमकुम संगसंग खसखस फूल धथूर
हे शिव ! एहि वरणक दिन ले’ संजोगल डिब्बा बन्न कपूर !
ठुमकि ठुमकि क’ गएब नचारी एहेन दिवस ने फेर
कयलहुँ हियसँ ई तैयारी देह गेहक नहि टेर
हे शिव ! अपन जटासँ गंग बहाबू करू ई आश मंजूर !
पार्वती के संगसंग कार्तिक गणपति मान मनाएब
कहू ने सदाशिव कोन बाट ध’ कखन हमर घर अएब
हे शिव ! बरू ने भरू तृष्णा के बाकस दर्शन देब जरूर !
नश्वर जगमे भक्त बसय शिव अपने छी कैलाश
एक्को दिन लेल करू ने महादेव मर्त्यनगरमे वास
हे शिव ! अहींके चरणमे आत्मसमर्पण कर्मक संग गरूर

Advertisements